Sale!

पातंजल योग सूत्र (स्वाध्याय पुस्तक)

51.00

इस नोट्स के अंतर्गत महर्षि पतंजलि कृत पातंजल योगदर्शन का वर्णन किया गया है,, जिसमें 195 सूत्र है जो कि चार अध्यायों (पाद) में वर्णित है। इस नोटस् में मुख्यतः चित्त वृत्तियां कौन-कौन सी हैं,, चित्त वृत्तियों को रोकने के उपाय, चित्त भूमियां, चित्त प्रसादम के उपाय, क्रिया योग, अष्टांग योग, अष्टांग योग का परिणाम, समाधि संयम, संयम जनित विभूतियां आदि का वर्णन किया गया है। इस नोट्स में ईश्वर, पुरुष, प्रकृति व कैवल्य के स्वरूप का वर्णन भी किया गया है, अंत में चित्त विक्षेप, योग अंतराय व पंच क्लेशों का वर्णन किया गया है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “पातंजल योग सूत्र (स्वाध्याय पुस्तक)”